Skip to content

[ 10 Quick Tips ] Website Optimize Kaise Kare in 2022

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि सही तरीके से Website Optimize Kaise Kare…ताकि Site पर ज्यादा से ज्यादा Organic Traffic लाया जा सके।

सही Methods को Apply करके Website Optimize करने से आपको Search Engine में High Ranking प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

सबसे अच्छी बात तो यह है कि Website Optimization SEO के कुछ Factors में से एक है जो पूरी तरह से आपके Control में है।

इस पोस्ट में, आप सीखेंगे कि Step by Step अपनी Website का Optimization Kaise Kare या कैसे कर सकते हैं।

अभी आप जो कुछ भी सीखने जा रहे हैं उसे Apply करके आप Search Engine Traffic को improve कर पाएंगे, बेहतर User Experience दे पाएंगे और अपनी Website को अधिक Profitbale भी बना पाएंगे।

अगर आप मेरे द्वारा Clients और अपनी Multiple Sites पर Apply किए गए Website Optimization Methods को Exact follow करना चाहते है तो फिर यह पोस्ट आपके लिए है।

READ MORE:

Website Optimization Kya Hai

Website Optimize Kaise Kare

Website Optimization आपकी Website को Search Engine Traffic और Overall User Experience को बेहतर बनाने के लिए Optimization की एक Process है।

Search Engine Traffic और User Experience आपकी Website को बेहतर बनाने के लिए काम करते हैं जो आपके Business की Growth के लिए लाभदायक होता है।

अगर सही तरीके से Website optimize नहीं होती है तो आपको ज्यादा Traffic हासिल करने में भी Problem आएगी और फिर उस Traffic को अपने Loyal Customers में Convert करने में भी काफी दिक्कत आएगी।

बिना Website Optimize करे तो user आपकी Site पर आएँगे [अगर वे आपकी साइट को ढूंढ पाए तो ] और Back Button Press करके आपके Competitior की Site पे चले जाएंगे।

इसीलिए अपनी Website को सही तरीके से Optimize करने के लिए आप कई Techniques और Best Practices को Apply कर सकते हैं ताकि आप अपनी Website को Profitable Business के रूप में Convert कर पाएं।

Website Optimization के लिए आगे 10 बेहतरीन Techniques आपके साथ शेयर करने जा रहा हूँ, जिन्हें Follow करके आप अपनी Website को Optimize कर सकते है।

किसी भी डिवाइस की Performance को improve करने के लिए अलग-अलग tactics use किए जाते हैं और Website Optimization में Google द्वारा हाल में Launch की गई Technique Core Web Vitals को कैसे भुला जा सकता हैं। इसी के चलते चलिए जानते हैं कि Core Web Vitals की सहायता से Website Optimize kaise Kare

Core Web Vitals se Website Optimize Kaise Kare

Google के latest update के कारण एक और Ranking Factors site में add हो गया है जिसका नाम Core Web Vitals है जो कि आपकी Site की Ranking को काफी प्रभावित करता है।

Website Optimize

Website Optimize: Core Web Vitals

आगे मैं आपके आपके साथ कुछ ऐसे important points share करता है जिन्हें अगर आप सही से फॉलो करते है तो आपके User Experience के साथ-साथ Traffic भी improve हो जाएगा।

Most Important Factors निम्नलिखित है:-

1. Loading Speed – इससे हमें यह पता चलता है कि आपकी Site कितनी जल्दी Load होती है और आपके Content को Screen पर Show होने में कितना समय लगता है, सामान्य तौर पर इसमें 2.5 सेकंड से भी कम समय लगता है

Also Read: [ 9 Easy Steps ] NitroPack se Website ki Speed Kaise Badhaye

2. Interactivity – इससे हमें यह पता चलता है कि जब कोई User आपकी Website के किसी Page के साथ Interact करता है तो उस Request को Process करने में कितना समय लगता है, जैसे कि एक बटन या फिर Category पर क्लिक करना, सामान्य तौर पर यह 100ms से कम में होता है।

3. Visual Stability – इससे यह पता लगाने में मदद मिलती है कि आपकी साइट fully responsive है या नहीं। चूँकि अगर Site Fully Responsive नहीं है तो उसके Elements Screen-size को सही तरीके से adjust नहीं करपाएंगे और फिर User irriate होकर Bounce Back कर जाएगा।

Summrize – इसलिए इन तीनों Points को Sum up करते हुए Users और Search Engines यही चाहते है कि आपकी Site Fast, Usable और Secure [Safe] हो।

Core Web Vitals के बाद, अब Website Optimization में बात करते हैं कि Technical SEO को fix करके Website Optimize kaise Kare

Technical Errors को Fix करके Website Optimize kaise Kare

आपकी साइट में Technical SEO के Errors Definitely हो सकते है जो आपकी Site की Growth को धीमा कर रहे है।

इसलिए इन Errors का पता लगाने के लिए आपको एक SEO Tool की आवश्यकता होगी। इस Situation में आपके लिए SEMRush और Ahref का Webmaster Tool बिल्कुल सही रहने वाला है।

आपको Simply इन Tools में अपना Domain Name दर्ज करना है और फिर Report को Generate करना है जैसे ही आपकी Report Complete हो जाती है तो ये Tools आपको Technical SEO को Optimize करने के Quick Steps बताएंगे। जिन्हें Follow करके आप अपनी Site के Technical SEO को Improve कर सकते है।

हालांकि ये tools कुछ ऐसे Errors को भी आपके सामने show करेंगे जिन्हें आपको Hardly Follow करनी चाहिए।

चलिए आगे कुछ ऐसे टॉपिक के बारे में बात करता हूं जिन्हें आपको बिल्कुल नजरअंदाज नहीं करना चाहिए।

Indexation Check kare

आपकी site को search engine के द्वारा index किया जा रहा है या नहीं।

indexation का पता करने के लिए Simply Google “site:deepblogging.com” में अपनी Site को इस तरह से Enter करना है।

जैसे ही आप “site:yoursite.com” search करेंगे तो आपको पता चल जाएगा कि आपकी साइट के कौन-कौन से pages or posts google में index हो रहे है।

Robots.txt file check kare.

Check करें कि आपकी Site की robots.txt file कहाँ है क्योंकि गलत जगह पर robots.txt file site का traffic down कर सकती है।

आपकी site की robots.txt file का सही Path [ yoursite.com/robots.txt ] इस तरह होना चाहिए।

एक बात ओर ध्यान में रखें।

User-agent: *
Disallow: /

ये Code देख लीजिए।

अगर आपको इस तरह का Code अपनी robots.txt file में मिलता है तो आपको search engine से block किया गया है या आपसे गलती से ऐसा हो गया हो सकता है।

URL Canonicalization Check Kare.

Website Optimize kaise kare

Website Optimize: Canonical Url

आपके Homepage से केवल एक ही URL जुड़ा होना चाहिए, उदाहरण के लिए “Yourdomain.com”, हालांकि, आपकी Site के कई अलग-अलग URL हो सकते हैं जो एक ही चीज़ को refer करते हैं, उदाहरण के लिए:

  • Yourdomain.com
  • Https://yourdomain.com
  • Http://www.yourdomain.com

आमतौर पर, Google आपकी Site के किसी एक version को index करने के लिए चुनेगा, लेकिन यह कई अलग-अलग versions को भी index कर सकता है, जिससे Confusion और Duplicate Content जैसी Problem पैदा हो सकती है।

Broken Links fix Karein.

Broken Links Crawling के साथ-साथ खराब User Experience भी बना सकते हैं।

आप Broken Links और अपनी साइट पर 404 Pages की पहचान करने के लिए Google Search Console जैसे Tool का use कर सकते हैं ।

जब एक बार आपको Broken Links और 404 Pages का पता चल जाए तो फिर आप उन्हें Fix कर सकते है।

यदि आपकी Site पर कोई Page मौजूद नहीं है तो 301 redirect भी कर सकते हैं।

इसके अलावा अगर आप WordPress User है तो आप Broken Link Checker plugin का use भी कर सकते है।

हाल ही में हमने Technical Errors की बात हैं जिन्हें जानने के बाद आपको अंदाजा हो गया होगा कि Website Optimization में काफी Points को ध्यान में रखना होता हैं। खैर, ये बात तो हुई Technical Errors की, चलिए अब बात करते हैं कि Site Structure को सही तरीके से Follow करके Website Optimize kaise Kare

Site Structure Se Website Optimize kaise Kare

अगर आप अपनी Website create करते समय Long-term plan नहीं बनाते है, तो हो सकता है कि भविष्य में आपकी Site के Pages में Problem आ जाए।

इसलिए Site Sturcture को Refine or Optimize करके आप अपनी Website की Ranking में सुधार कर सकते है और बस कुछ ही Steps में अपनी Site के User Experience को improve कर सकते है।

Website optimize kaise kare

Website optimization: blog structure

आखिरकार, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपकी Site कितनी अच्छी दिखती है। यदि आपके Users को नेविगेट करना असंभव लगता है तो आपकी Site का User Experience लाज़मी खराब होगा।

Site Structure को Optimize करने के कुछ महत्वपूर्ण कारण आगे दिए गए हैं:

  • जब Users आपकी Site या Business के नाम को Search करते हैं तो इससे आपकी Search Engine Ranking improve होती है।
  • Site structure Optimize करने के से Crawlers के लिए indexing आसान हो जाती है।
  • आप Users के लिए अपनी Site पर Navigate करना और उनके द्वारा खोजी जा रही जानकारी को ढूंढना आसान बनाते हैं, जिससे बेहतर User Experience प्राप्त होता हैं।

आगे कुछ Tips Share करता हूँ जिन्हें follow करके आप Site Structure में सुधार कर सकते है:  

  • Old Content का Analysis करें और Low Quality के साथ-साथ Irrelevant Content को Remove कर दें।
  • Content के छोटे-छोटे टुकड़ों को Combine करें और एक Quality और Longer Post Create करें।
  • Categories को दोबारा से जांचे और देखें कि कौनसी Category के लिए कौन-कौन सी Posts सही है।
  •  Internal Linking को Optimize करें और आपकी पुरानी Posts में New Posts को Link करें।

किसी भी Product को बेचने के लिए सबसे पहले हमें अपनी Audience को समझना बहुत जरूरी हैं। इसीलिए अगर आप एक ब्लॉगर हैं और आपको Website Optimize करनी हैं तो आपको Users की इंटेंट को समझना होगा। चलिए आगे जानते हैं कि Users intent को समझकर Website Optimize kaise Kare

User intent Samjhkar Website Optimize kaise Kare

Quality Content Publish करने से भी अधिक महत्वपूर्ण है, ऐसा Content Publish करना जो किसी Keyowrd की Intent से मेल खाती हो।  intent भी Website Optimize करने का एक तरीका है।

सीधे शब्दों में कहें, तो intent वह है जो उपयोगकर्ता किसी दिए गए Keyword की खोज करते समय खोज रहा है।

लोग तीन प्रकार की Searches करते हैं:

  • User किसी Specific topic के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं।
  • User एक Specific Website की तलाश में हैं।
  • User किसी Product या Service को खरीदना चाह रहा हैं।

So User intent को Clearify करके भी आप अपने Visitors (Traffic) or Users Experience को improve कर सकते है।

#Pro Tip: अगर आप अपने Articles को जल्द से जल्द Rank और उनके उपर Huge Amount में Organic Traffic Drive करना चाहते हैं तो आपको Pillar Pages Create करने होंगे। आगे आप Complete Process के साथ जानेगे कि Pillar Pages Create करके Website Optimize kaise Kare

Pillar Pages Create karke Website Optimize kaise Kare

Pillar Page Basically किसी Topic या Keyword का सबसे महत्वपूर्ण Piece होता है। इसके अतिरिक्त Pillar Pages Normal Post से काफी ज्यादा Longer होते है।

सीधे शब्दों में कहें तो यह एक प्रकार की पोस्ट होती है जो किसी Main Topic पर होती है और इसके बाद जितने भी इसके Sub Topic होते है वे Main Post को Pillar Page बनाते है।

चलिए इसे एक छवि के उदाहरण के साथ देखें:-

Website optimize

Website Optimize: Pillar Pages

मुझे लगता है अब आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे, कि Pillar Pages क्या होते है।

Pillar Page एक Longer Content होता है जो अपने अंदर आने वाले सभी Topics के Content को समेटे रखता है।

Pillar Pages को हम किसी Specific Topic की Category भी मान सकते है जो उसी विषय पर लिखी गई दूसरी Posts को Browse करना Users के लिए आसान बनाता है।

ये आपकी साइट की दो तरह से मदद कर सकते हैं:

  1. आपके Content को Organize करता है और आपकी साइट को नेविगेट करने में आसान बनाता है।
  2. यह आपको Search Engine Ranking में Boost दे है।

Pillar Pages Google को यह दिखाने में सहायता करते हैं कि आपका Content किस बारे में है। Pillar Page Content की विभिन्न Categories को एकजुट करने में मदद करेगा।

अभी आप सोच रहे है कि मुझे भी Pillar Page बनाना चाहिए तो मैं आपको बता दूँ कि Pillar Page बनाते समय आगे दिए गए कुछ Points को जरूर Follow करें:-

  • अपने Old Content को Analyze करें और देखें कि कौनसा ऐसा Topic और Category है जिसके Under ज्यादातर Content (Posts) आता है।
  • Check करें कि क्या किसी Content को बड़ी पोस्ट के रूप में जोड़ा जा सकता है।
  • High Traffic Keywords को Research करें और फिर उन्हें Pillar pages में तब्दील करें।
  • Pillar Page बनाते समय Best Resources को ही Link करें।

Pillar Pages के बाद मुझे लगता हैं कि Rich Snippets को नजरअंदाज करना बिलकुल सही नहीं हैं क्योंकि अगर आप SERPs में अपने Articles को Different Way में Show करना चाहते हैं तो आपको रिच स्निपपेट्स का सहारा लेना ही पड़ेगा, तो चलिए जानते हैं कि Rich Snippets का Use करके Website Optimize kaise Kare

Rich-Snippets Se Website Optimize kaise Kare

Schema Markup Google को यह समझने में सहायता करता है कि आपका Page [Post] किस बारे में है और Page पर किस प्रकार का Content है।

अपने आप में Schema Markup आपको Search Engine में High Ranking देने में मदद नहीं करेगा, लेकिन यह आपको अधिक Search results real estate प्राप्त करने में मदद कर सकता है, जैसे कि Rich Snippets में दिखाना ।

अपने Pages में Schema Markup जोड़ने से आपके Search Engine CTR को बेहतर बनाने में भी मदद मिल सकती है।

उदाहरण के लिए, यदि आप एक Recipe ब्लॉग चलाते हैं, तो Schema Markup अतिरिक्त उपयोगी जानकारी दिखा सकता है, जो Users को किसी अन्य Website के बजाय आपके Result पर Click करने के लिए Encourage कर सकती है।

आगे Schema के सबसे सामान्य रूप दिए गए हैं जिन्हें आप अपनी Site में Apply कर सकते हैं:

  • Events
  • Articles
  • Recipes
  • Star reviews
  • Local business information

हर प्रकार का Schema आपकी Website पर लागू नहीं होगा। लेकिन, आपको अपनी Website के हिसाब से कम से कम किसी एक प्रकार का Schema तो Apply करना ही चाहिए।

अगर आप WordPress use करते है तो आपके लिए Schema Add करना काफी आसान है, जी हाँ सही समझे।

Schema Add करने के लिए आपको बस WordPress में एक Plugin install करना होगा और Schema Type Choose करना होगा।

Congratulations आपकी  Site में Website Optimization के लिए Schema Add हो चुका है।

अगर आपकी एक Website है या आप एक Blogger हैं तो आप Growth को ध्यान में रखें, साथ ही साथ पर्सनल ब्रांड भी Develop करना बहुत जरूरी हैं क्योंकि Website Optimization का एक खूबसूरत हिसा Personal Brand Develop करना भी हैं तो चलिए अब जानते हैं कि Personal Brand Develop करके Website Optimize kaise Kare

Personal Brand Develop karke Website Optimize kaise Kare

अभी आपके दिमाग में होगा कि भाई Personal Brand को Website Optimization के Article में क्यों घुसेड़ रहे हो, तो मेरे दोस्तों Personal Brand Website Optimzation के लिए क्यों जरूरी है, चलिए इसी के बारे में बात करते है।

Google Basically High Authority Website को ज्यादा तव्वजो देता है क्योंकि इन Sites के पास Amazing Content, Quality Links और Good User Experience Provide करने की क्षमता होती है। इसीलिए ये Sites Website Optimization की छत्रछाया में आती है।

अपने Niche में Business or Personal Brand बनाने करने के लिए इन Steps को follow करें:

  • अपने दर्शकों के साथ बेहतर तालमेल बिठाने के लिए अपने Overall Branding का Test करें।
  • High Quality और Relevant Content Create करें जिसे आपके दर्शक सच में पसंद करें।
  • अपने Niche से Relevant लोगों से जुड़िए और Backlinks की मांग करें।
  • अच्छे User Experience के लिए Website ki Speed को improve करें।

हम सभी इस बात को जानते हैं कि एक पॉवरफुल वेबसाइट बहुत सारी Power समेटे हुए रखती हैं। ऐसे में अगर आप ऐसी 10 Relevant Powerful Websites से Links Create करते हैं तो आपकी Site की Ranking Improve होने से कोई नहीं रोक सकता, तो चलिए आगे जानते हैं कि Relevant Links Create करके Website Optimize kaise Kare

Relevant Links Create karke Website Optimize kaise Kare

website optimize

Website optimize: off Page Linking

Website Optimize करने के लिए Links बनाना बहुत जरुरी है फिर चाहे आप Guest Posting, Article Submission करें या Profile Backlinks Create करें।

Must read:

Google के According Link Building One of the Most Important Ranking factor है।

अगर आप Backlink Techniques Search करते है तो आपको हजारों Blogs मिल जाएंगे जो आपको Backlinks बनाने की Technique से रूबरू करवाएंगे।

Links के लिए 3 Techniques का Use कर सकते है:

1. Create better content: Better Content Create करने से न केवल आप Competitors से Backlinks चुराएंगे, बल्कि इससे आपकी पोस्ट को Naturally Links मिलने के chances भी बढ़ जाते है।

2. Find Broken Link Pages: सबसे पहले अपने Niche से Related Sites से Broken Link find कीजिए। इसके बाद उस Topic पर बढ़िया Content Create कीजिए।

Finally, Site Owner को Pitch [Email or any type of Contact] कीजिए और उन्हें बताएं कि आपके पास Broken Links से Relevant Content मौजूद है, क्या आप मेरा Content आपकी Post के साथ Link करना चाहेंगे।

3. Guest blog on Authority: अपने Niche से संबंधित Sites को ढूंढे और उनपर Guest Post करें। ये भी Website Optimize और Links बनाने का बहुत अच्छा तरीका है ज्यादा जानकारी के लिए इस पोस्ट को पढ़ें: 191+ Guest Posting Sites List in Hindi [ New Addition ]

अगर आप Blogging कर रहे हैं तो आपको अपने old content पर खास ध्यान देना होगा, क्योंकि जैसे-जैसे आप New Posts लिखते जाएंगे, वैसे ही आपके old content में नए updates आते रहेंगे, तो चलिए अब जानते हैं कि Old Content को Modify करके Website Optimize kaise Kare

Old Content Modify karke Website Optimize kaise Kare

अधिक Content Create करने में समय, ऊर्जा और यहां तक ​​कि पैसा भी लगता है। लेकिन, आप अपनी पुरानी Posts को Update करके, अधिक पोस्ट लिखे बिना अपनी Ranking में सुधार कर सकते हैं।

समय के साथ, आपका Content Outdated हो जाता है, अपने Content को अपडेट करके आप अपने Freshness Score में सुधार कर सकते हैं और Traffic में भी imrovement देख पाएंगे।

समय के साथ बहुत सारे Topic बदलते हैं, इसलिए अपनी पुरानी Posts को Update करके आप इसकी Relevancy में सुधार करते हैं।

आगे मैं कुछ Reasons Share कर रहा हूँ जिनकी वजह से आपको Content को Update रखना चाहिए:

  • लेख की तारीख को अपडेट करने से Search Engine CTR में सुधार हो सकता है।
  • अपने Content को वर्तमान Ranking की तुलना में अधिक सटीक और बेहतर बनाएं।
  • किसी भी पुराने Typo को ठीक करें और Content को अधिक Readable बनाएं।
  • किसी भी टूटे हुए Link को Update करें और बेहतर Resources से लिंक करें।
  • Site पर Time on Site improve करने के लिए नए मीडिया, चित्र और ग्राफिक्स जोड़ें।
  • नए कीवर्ड के लिए Optimize करें, या अपने सारे Content को बेहतर ढंग से Optimize करें।

किसी भी काम में At the end हमें चाहिए होता हैं कि हमें बेनिफिट हो, तो ऐसे में अगर आप एक ब्लॉगर हैं तो आपको Conversions के लिए खास पैतरे आजमाने होंगे। तो चलिए अब जानते हैं कि Site Conversions को Measure करके Website Optimize Kaise Kare

Site Conversions Ready Karke Website Optimize Kaise Kare

जब आप अपनी Website का Traffic, Email Subscriber और Revenue बढ़ते देखते है तो आप हमेशा यही चाहते है कि इसी प्रकार बढ़ते रहे।

लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप ज्यादा Traffic or Buyers से Conversions में बढ़ोतरी पा लेंगे। Conversions के लिए आपको काफी ज्यादा Efforts करने पड़ सकते है।

Website optimize kaise kare

Website Optimize: Conversions

इसको आसान भाषा में समझें तो Conversion optimization Website Visitors की संख्या बढ़ाने की Process है जो Customers में बदल जाते हैं या फिर एक Specific Action लेते हैं।

आगे कुछ Steps बता रहा हूँ जिन्हें Use करके आप अपनी Site Conversion को improve कर सकते है:

1. A/B Testing: आप अपनी Website के एक हिस्से में बदलाव करते हैं और दो अलग-अलग Versions में Traffic Run करते हैं, फिर Data का Analysis करके देखें कि सबसे अच्छा Conversion किस Version में है।

2. Clear Value: अपने Users को Quality Value Provide कीजिए। जितना आप अपने Readers के साथ Loyal और Transparent रहेंगे, उतने ही ज्यादा Chances है कि आपके Conversion में improvement हो।

3. Clear Cut Answer: आप जो भी बेचते है या Sell करते है उसे आसान से आसान शब्दों में Describe करने की कोशिश करें।

4. Call-to-Action: अलग-अलग Call-to-action और उनके Colours को Check करें और देखे कि कौनसा Method आपके लिए बेहतर Work करता है।

Conversion optimization आपको ज्यादा Content लिखने और ज्यादा Ads Place करने से बचाता है।

READ MORE:

Last Thought

तो दोस्तों इस तरह से Website optimize करने का last point भी पूर्ण होता है लेकिन रुकिए-रुकिए आपको कहीं भी जाने की आवश्यकता नहीं है।

मैं आपको बता दूँ कि Website optimize करने की Journey सिर्फ यही समाप्त नहीं होती है बल्कि आगे भी इस पोस्ट को हम समय-समय पर Update करते रहेंगे और आपको नया और Fresh Content मिलता रहेगा।

तो friends, इस पोस्ट में फ़िलहाल इतना ही फिर मिलता हूँ कि किसी ओर विषय के साथ तब तक के लिए आप Deepblogging की another posts को enjoy करते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.